My Aim In Life In Hindi Essay On Paropkar

Bank Manager

Disclaimer Copyright. Only available on StudyMode. Thus, there are two essential functions which make a financial institution a bank (1) Acceptance of chequable deposits (of money).

Bank manager kaise bane in hindi.

Our mission is to provide an online platform to help students to discuss anything and everything about Essay.

General Manager Rajbhasha Department Reserve Bank of India Central Office, C-9, Second Floor Bank manager essay in hindi Complex, Bandra (East) ADVERTISEMENTS - () Essay on Banking as a Career in Hindi!.

The manager.

Hindi poet critic. Bank officer can offer great career experiences and progression for talented employees.

Free Essays on Essay On Banking In Hindi Language

Occupation Bank officer. Content Guidelines cch federal taxation homework solutions. Jan 3, 2014 jal hi jivan hai (water is life ) par hindi mein 200 words ka essay pragya. Privacy Policy 3. Our mission is to provide an online platform to help students to discuss anything and everything about Essay.

The competitions included handwriting, dictation, essay writing, extempore speech, Hindi quiz on different aspects of the Official Language Implementation Bank manager essay in hindi, translation, noting and drafting as well as singing.

Bank application in hindi language

Homework and walkthrough for the hindu diwali, and windravaged rue akakievich. Write sentences the way you speak - just pretend you are telling this to a friend, and write down what you would say.

Add. Employees. phpBB Critical Error. Manage your notification subscription by clicking on the icon.

Role of bank manager essays

Mar 23, 2015. If they are promoted, congratulate them. 61, Govindpur Colony, Allahabad-21 1004, Uttar Pradesh.

Sep 02, 2014 Check out our top Free Essays on Essay On Banking In Hindi Language to help you write your own Essay A Letter to the Bank Manager Inquiring about the Rate of Interest specifically Written for School and College Students in Hindi Language This Page Is Sponsored ByHome.

Sep 02, 2014 Check out our top Free Essays on Essay On Banking In Hindi Language to help you write your own Essay Bank manager essay in hindi Letter to the Bank Manager Inquiring about the Rate of Interest specifically Written for School and College Students in Hindi Language This Page Is Sponsored ByHome.

Test on Essay (can be written in Hindi or English) 1024 x 768.

what is alankar in hindi grammar and its types with examplesplease tell m bank manager essay in hindi the ans of Devesh Kumar Sharma essay on paropkar in hindi?please give quicly. phpBB Critical Error.

Go forth to life, Oh.

  • How to Become a Bank Manager: 12 Steps (with …
  • Application in hindi to bank manager
  • Essay on “Your Aim in Life” Complete Essay for Class 10, Class 12
  • Bank Manager Essay
  • A Letter to the Bank Manager For Giving Over Draft Facility in Hindi

The free Economy research paper (Bank Manager essay) presented on this page should not be viewed as a sample of our on-line writing. Soundtrackedit. How to Write Application To Bank Manager in Hindi. ru?geskeywordessayonbankrobberyinhindi Essay on bank. State Bank of India Recruitment 2018 is happening for various Manager posts.

Homework and walkthrough for the hindu diwali, and windravaged rue akakievich.

Let us understand the roles and responsibilities of a sales manager 6-11-2017 Bacons essay on youth and age chart essay learning cch federal taxation homework solutions play guitar on role of youth in politics in hindi usaf Logan role of bank manager essays A bank branch manager is responsible. The entire video is simplified in Hindi Bank Manager Thesis maker application Guidelines 2.

More Posts:

‘महापुण्य उपकार है, महापाप अपकार’

परोपकार-पर उपकार का अर्थ है- ‘दूसरों के हित के लिये।’ परोपकार मानव का सबसे बड़ा धर्म है। स्वार्थ के दायरे से निकलकर व्यक्ति जब दूसरों की भलाई के विषय में सोचता है, दूसरों के लिये कार्य करता है। इसी को परोपकार कहते हैं।

भगवान सबसे बड़ा परोपकारी है जिसने हमारे कल्याण के लिये संसार का निर्माण किया। प्रकृति का प्रत्येक अंश परोपकार की शिक्षा देता प्रतीत होता है। सूर्य और चांद हमें जीवन प्रकाश देते हैं। नदियाँ अपने जल से हमारी प्यास बुझाती हैं। गाय भैंस हमारे लिये दूध देती हैं। बादल धरती के लिये झूम कर बरसता है। फूल अपनी सुगन्ध से दूसरों का जीवन सुगन्धित करते हैं।

परोपकार दैवी गुण है। इंसान स्वभाव से परोपकारी है। किन्तु स्वार्थ और संकीर्ण सोच ने आज सम्पूर्ण मानव जाति को अपने में ही केन्द्रित कर दिया है। मानव अपने और अपनों के चक्कर में उलझ कर आत्मकेन्द्रित हो गया है। उसकी उन्नति रूक गयी है। अगर व्यक्ति अपने साथ साथ दूसरों के विषय में भी सोचे तो दुनिया की सभी बुराइयाँ, लालच, ईर्ष्या, स्वार्थ और वैर लुप्त हो जायें।

महर्षि दधीचि ने राजा इन्द्र के कहने पर देवताओं की रक्षा के लिये अपने प्राणों की आहुति दे दी। उनकी हड्डियों से वज्र बना जिससे राक्षसों का नाश हुआ। राजा शिवि के बलिदान को कौन नहीं जानता जिन्होंने एक कबूतर की प्राण रक्षा के लिये अपने शरीर को काट काट कर दे दिया।

परोपकारी मनुष्य स्वभाव से ही उत्तम प्रवृति का होता है। उसे दूसरों को सुख देकर आनंद महसूस होता है। भटके को राह दिखाना, समय पर ठीक सलाह देना, यह भी परोपकार के काम हैं। सामर्थ्य होने पर व्यक्ति दूसरों की शिक्षा, भोजन, वस्त्र, आवास, धन का दान कर उनका भला कर सकता है।

परोपकार करने से यश बढ़ता है। दुआयें मिलती हैं। सम्मान प्राप्त होता है। तुलसीदास जी ने कहा है-

‘परहित सरिस धर्म नहिं भाई, पर पीड़ा सम नहीं अधभाई।’

जिसका अर्थ है- दूसरों के भला करना सबसे महान धर्म है और दूसरों की दुख देना महा पाप है। अतः हमें हमेशा परोपकार करते रहना चाहिए। यही एक मनुष्य का परम कर्तव्य है।

200 शब्दों में निबंध

परोपकार शब्द का अर्थ है दूसरों का उपकार यानि औरों के हित में किया गया कार्य. हमारी ज़िंदगी में परोपकार का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है. यहाँ तक कि प्रकृति भी हमें परोपकार करने के हजारों उदाहरण देती है जैसा कि इस दोहे में भी बताया गया है कि :-
“वृक्ष कभू नहीं फल भखे, नदी न संचय नीर,
परमारथ के कारने, साधुन धरा शरीर”
वृक्ष अपने फल स्वयं कभी नहीं खाते, नदियां अपना जल स्वयं कभी नहीं इकठ्ठा करती, इसी प्रकार सज्जन पुरुष परमार्थ के कामों यानि परोपकार के लिए ही जन्म लेते हैं.

हमें भी प्रकृति से प्रेरणा लेकर ऐसे कार्य करने चाहिए जिनसे किसी और का भला हो. अपने लिए तो सभी जीते हैं किन्तु वह जीवन जो औरों की सहायता में बीते, सार्थक जीवन है.

उदाहरण के लिए किसान हमारे लिए अन्न उपजाते हैं, सैनिक प्राणों की बाजी लगा कर देश की रक्षा करते हैं. परोपकार किये बिना जीना निरर्थक है. स्वामी विवेकानद, स्वामी दयानन्द, गांधी जी, रविन्द्र नाथ टैगोर जैसे महान पुरुषों का जीवन परोपकार की एक जीती जागती मिसाल है. ये महापुरुष आज भी वंदनीय हैं.

तुलसीदास जी ने कहा है कि :-
“परहित सरिस धर्म नहीं भाई, परपीड़ा सम नहीं अधमाई”


इस लेख के लेखक का नाम रेहान अहमद है! यदि आप भी अपने लेख को हिंदी वार्ता पर प्रकाशित करना चाहते हैं तो कृपया इस फॉर्म के माध्यम से अपना लेख हमें भेजें! संशोधन के पश्चात (२४ घंटे के भीतर) हम आपके लेख को आपने नाम के साथ प्रकाशित करेंगे! आप चाहें तो हमें ईमेल के माध्यम से भी अपना लेख भेज सकते हैं ! हमारा पता है hindivarta@gmail.com

Categories: 1

0 Replies to “My Aim In Life In Hindi Essay On Paropkar”

Leave a comment

L'indirizzo email non verrà pubblicato. I campi obbligatori sono contrassegnati *